सगे भाई ने चोद चोदकर मेरी बुर फाड़ दी और भरपूर मजा दिया

loading...

हेल्लो दोस्तों, मैं आप सभी का नॉन वेज स्टोरी डॉट कॉम में बहुत बहुत स्वागत करती हूँ। मेरा नाम मनोरमा है। मैं पिछले कई सालों से नॉन वेज स्टोरी की नियमित पाठिका रहीं हूँ और ऐसी कोई रात नही जाती तब मैं इसकी रसीली चुदाई कहानियाँ नही पढ़ती हूँ और मजे नही लेती हूँ। आज मैं आपको अपनी स्टोरी सूना रही हूँ। मैं उम्मीद करती हूँ कि यह कहानी सभी लोगों को जरुर पसंद आएगी। ये कुछ दिन पहले ही बात है। मैं उस दिन कॉलेज से देर से आई थी। देर के हो जाने के कारण मेरा भाई अनुभव बहुत नाराज था। “मनोरमा! कहाँ थी तुम?? देर कैसे हो गयी??” उसने चिल्लाकर पूछा “मैं अपनी दोस्त के घर गयी थी पार्टी में” मैंने कहा तो अनुभव बहुत गुस्सा हो गया और मुझे मारने लगा। तो मैंने भी उसे हाथ से मारने लगी। हम दोनों भाई बहन जुडवा थे इसलिए हम दोनों बराबर थे और बहुत झगड़ा करते थे। फिर झगड़ा करते करते अनुभव का हाथ मेरे मम्मे में लग गया तो मुझे बहुत मजा आया। फिर वो भी अपने कमरे में चला गया। शायद उसे कुछ पछतावा हो रहा था। अब धीरे धीरे मेरा अपने भाई से चुदवाने का मन करने लगा था। मुझे इस बात पर हैरानी भी होती थी की मैं कैसी बहन हूँ की अपने सगे भाई से चुदवाने के बारे में सोच रही हूँ। फिर कई दिन मैंने रात में सोते वक्त अपनी चूत में ऊँगली करके अपनी चूत की आग शांत कर ली। धीरे धीरे मैं रोज अपने भाई के सामने छोटे कपड़े पहनने लग गयी।
अब मैं घर में शॉर्ट्स पहनने लगी तो जांघ तक होते थे। और मैं उपर सिर्फ एक पतली ही कंधे खुले वाले टी शर्ट पहनती थी। धीरे धीरे मेरा अपने भाई से चुदवाने का दिल कर रहा था। कुछ दिनों बाद मेरे पापा और मम्मी एक शादी में शहर से बाहर चले गये थे। मेरे और भाई अनुभव के एक्साम हो रहे थे। इसलिए हम लोगो को घर ही ही रुकना पड़ा। इसी बीच मैंने पूरा प्लान बना लिया। मैंने बहुत ही छोटे कपड़े पहने और सीढियों से फिसलने का नाटक किया और तेज तेज मैं रोने लगी। मेरा भाई अनुभव मुझसे झगड़ा बहुत करता था पर प्यार भी बहुत करता था। वो तुरंत दौड़ता दौड़ता आया।
“क्या बहन बहन???” अनुभव ने पूछा
“भाई देखो ना मेरा पैर फिसल गया है और कमर और पीठ में बहुत दर्द हो रहा है” मैंने कहा तो अनुभव ने मुझे बाहों में उठा लिया और बेडरूम में ले गया। उसने मेरा टॉप निकल दिया और मुझे पेट के बल बेड पर लिटा दिया। फिर वो मेरे मूव लगाने लगा। मुझे बहुत अच्छा लग रहा था। धीरे धीरे मेरी चूत गीली हुई जा रही थी। मैंने सिर्फ ब्रा बहन रखी थी। मैं अंदर ही अंदर चाहती थी की आज मेरा भाई मुझे कसके चोदे और मेरी चूत फाड़कर रख दे। “भाई! तुम मेरी ब्रा की डोरी खोल दो और पूरी पीठ में मूव अच्छे से लगा दो” मैंने कहा। अनुभव ने मेरी ब्रा की डोरी पीछे से खोल दी। मेरी पीठ अब पूरी तरह से नंगी हो चुकी थी। फिर अनुभव अपने हाथ से मेरी पीठ पर मूव लगाने लगा। मुझे अच्छा लग रहा था। पर मेरा असली मकसद अपने भाई का मोटा लंड खाना था और कसके चुदवाना था। हम दोनों 21 साल के हो चुके थे। “ओह्ह्ह! मेरे पेट में भी दर्द हो रहा है!” मैंने कहा तो अनुभव ने मुझे पलट लिया। मेरी ब्रा तो पहले से ही खुली हुई थी इसलिए वो अपने आप हट गयी और मेरे 34” के शानदार मम्मे उसे दिख गये। मेरा भाई कोई कैरक्टरलेस आदमी नही था। वो एक अच्छा लड़का था। इसलिए वो दूसरी तरफ देखने लगा। मैंने अपने भाई का हाथ पकड़ लिया।
“कोई बात नही भाई!! मुझसे कैसी शर्म! आओ मेरे पेट पर मूव लगाओ!!” मैंने कहा। फिर अनुभव मेरे पेट पर मूव मलने लगा। मेरे खूबसूरत 34” के मम्मो को वो देखे ही जा रहा था। मेरे दूध बहुत ही सेक्सी थे। फिर धीरे धीरे अनुभव के हाथ मेरे मम्मो पर जाने लगे और वो मूव मम्मो पर भी मलने लगा। मुझे ठंडा ठंडा लग रहा था। उसके बाद मैंने अनुभव का दूसरा हाथ भी अपने दूसरे मम्मे पर रख दिया। धीरे धीरे वो खुद ही समझ गया और हम दोनों किस करने लगे। हम दोनों भाई बहन में चुदाई का समझौता हो गया था। अनुभव मेरे उपर लेट गया था और मेरे होठ चूस रहा था। मुझे बहुत सेक्सी महसूस हो रहा था। मेरे दोनों होठों में सनसनाहट हो रही थी। क्यूंकि आज पहली बार मैं किसी जवान मर्द के होठ चूस रही थी। हम दोनों लिप लॉक होकर किस कर रहे थे। मेरे होठो को भाई संतरे की फांकों की तरह चूस रहा था। मेरी चूत में खुजली शुरू हो गयी थी। मैं अपने भाई से चुदना चाहती थी।
धीरे धीरे अनुभव सब कुछ समझ गया और मेरे मम्मो को सहलाने लगा। फिर तेज तेज दबाने लगा। जब जब वो मेरे बूब्स पर हाथ घुमाता था मुझे बहुत सेक्सी फील होता था। आज मेरे अंदर की औरत कसके चुदना चाहती थी। मैं चाहती थी की भाई आज मुझे चोद चोदकर एक औरत बना दे। आज मैं अपनी चूत फड़वाने के मूड में थी। फिर भाई तेज तेज मेरे बूब्स को दबाने लगा। मुझे नशा सा हो रहा था। मैं “..अहहह्ह्ह्हह स्सीईईईइ….अअअअअ….आहा …हा हा हा” की आवाज निकाल रही थी। धीरे धीरे भाई और तेज तेज मेरे बूब्स दबाने लगा। मुझे अजीब सा नशा चढ़ रहा था। फिर अनुभव मेरे बूब्स चूसने लगा। उसे भी बहुत मजा मिल रहा था।
मैं भी उसे अपनी रसीली चूचियां पिला रही थी। मेरे अंदर आग सी जल चुकी थी। दोस्तों मेरे बूब्स तो बहुत ही खूबसूरत थे। बड़े बड़े, रसीले और अनार जैसे। अगर कोई लड़का एक बार मुझे नंगी देख लेता तो मेरी चूत और गांड दोनों कसके चोद लेता। दोस्तों मैं कितनी खूबसूरत लड़की थी। धीरे धीरे अनुभव मुझसे प्यार करने लगा था। उसे भी बहुत अच्छा लग रहा था। वो मेरे बूब्स को मजे से चूस रहा था।
बिना देर किये अनुभव ने मेरे मम्मे को हाथ में ले लिया और उसका साइज पता करने लगा। मेरे दूध बहुत सुंदर थे, छातियाँ भरी हुई, सुडौल और गोल गोल थी, जैसे उपर वाले ने कितनी फुर्सत से बैठकर मेरी जैसी माल और मस्त चोदने लायक लड़की बनाई थी। मेरी उजली छातियाँ पूरे गर्व से तनी हुई थी। छातियों के शिखर पर अनार जैसे लाल लाल बड़े बड़े घेरे मेरी निपल्स के चारो ओर बने थे, जिसमे मैं बहुत सेक्सी माल लग रही थी। अनुभव की नजर मुझ पर जम गयी। तेजी से उसने मेरी रसीली बलखाती चुचियों को अपने वश में कर लिया और दोनों मम्मो को दोनों हाथ से दबोच लिया और तेज तेज दबाने और मसलने लगा। ““उ उ उ उ उ।।।।।।अअअअअ आआआआ।।। सी सी सी सी।।।।” मैं तेज तेज चिल्लाने लगी। मेरा भाई मेरे दूध को किसी हॉर्न की तरह दबाने लगा। मुझे भी काफी मजा आ रहा था। फिर वो लेटकर मेरे दूध मुंह में लेकर पीने लगा। मैं तडप गयी। मुझे तो जैसे जन्नत मिल गयी थी।
‘बहन!!।। तुम इतनी कड़क माल हो की जो मर्द आपको एक बार देख ले उसका लौड़ा तुरंत खड़ा हो जाएगा और वो तुमको चोदकर ही मानेगा’ अनुभव बोला। मुझे उसकी बात अच्छी लगी। वो फिर से मुझ पर लेट गया और हपर हपर करके लपर लपर करके मेरी नुकीली बेहद कमसिन चूचियों को मुँह में भरके पीने लगा। वो तो बहुत शरारती निकला। वो मेरी नुकीली छातियों को दांत से काट रहा था और पी रहा था। मुझे दर्द भी हो रहा था, उतेज्जना भी हो रही थी और मजा भी आ रहा था। ‘भाई!….प्लीस आराम से मेरे नारियल चूसो!! आराम से चूसो!!’ मैंने कहा। पर उस पर कोई असर नही पड़ा। वो अपनी धुन में था। जोर जोर से मेरी सफ़ेद कदली समान चूचियाँ दांत से जोर जोर से काट कर पी रहे था। वो बहुत जादा चुदासा हो गया था। उसका बस चलता तो मेरी छातियाँ खा ही लेता। मेरी रसीली छातियों को वो जोर जोर से दबा रहा था और निपल्स पर अपनी जीभ फेरते थे और पी रहा था। दोस्तों, बड़ी देर तक यही खेल चलता रहा।
“भाई! अब मुझसे कंट्रोल नही हो रहा है। सी सी सी सी…. प्लीस जल्दी से मेरी चुद्दी [चूत] में लंड डाल दो और जल्दी से चोदो!!” मैंने किसी बेशर्म लड़की की तरह कह दिया। अनुभव अब मेरी दोनों चूचियों को अच्छे से चूस चुका था। अब वो मुझे चोदने जा रहा था। अनुभव ने मेरे हाथ में अपना लंड दे दिया। हाय दादा!! कितना बड़ा लौड़ा था उसका। 10” लम्बा और 2” मोटा था। मैंने हाथ में लिया तो मैं डर गयी थी। मुझे डर लग रहा था की इतना बड़ा लंड मेरी चूत में कैसे अंदर जाएगा। फिर मैं जल्दी जल्दी उसका लंड फेटने लगी। कुछ ही देर में अनुभव का लंड खड़ा हो गया था। वो देखने में बहुत ही सेक्सी लंड लग रहा था। जैसे किसी गधे का लंड हो। मैं जल्दी जल्दी उसे उपर नीचे करके फेटने लगी। अनुभव को भी बहुत मजा आ रहा था। वो आह आह की आवाज निकाल रहा था। मैं और जल्दी जल्दी उसका लंड फेटने लगी। फिर मुंह में लेकर मैं चूसने लगी। बार बार मेरे बाल नीचे गिर जाते थे। बार बार मुझे बालों को उपर कान के पीछे ले जाना पड़ता था।
मेरे भाई का लंड तो बहुत ही रसीला था। मैं मुंह में लेकर जल्दी जल्दी चूसने लगी। अनुभव मेरी चूत और सहलाने लगा। धीरे धीरे मैं गर्म हुई जा रही थी। फिर मैंने उसके लंड को गले में अंदर तक भर लिया। बड़ी देर तक मैंने लंड बाहर ही नही निकाला। फिर कुछ मिनट बाद मैंने उसका लंड बाहर निकाला। उसे मेरा ये कारनामा बड़ा अच्छा लगा। फिर मैंने जल्दी जल्दी मेहनत से अपने भाई का लंड चूसने लग गयी। अब उसका लंड और जादा फूलकर बड़ा हो गया था। मैं डर रही थी की कहीं भाई का लंड मेरी चूत ना फाड़ दे। अनुभव ने मुझे सीधा लिटा दिया और मेरी चूत पीने लगा। दोस्तों मैंने चाहती थी की आज वो मुझे कसके चोदे और भरपूर मजा दे। इसलिए आज सुबह ही मैंने अपनी चूत की झांटो को हेयर रिमूवर क्रीम से साफ़ कर दिया था और नहाते वक़्त अच्छे से साबुन से मलकर चमका दिया था। मेरे भाई तो मेरी चूत बहुत ही सेक्सी और हॉट लगी। वो जल्दी जल्दी किसी चुदासे कुत्ते की तरह मेरी बुर चाटने लगा। उसे भी मजा मिल रहा था। वो मेरे चूत के दाने को जल्दी जल्दी चाट रहा था। मुझे बहुत सनसनी फील हो रही थी। मैंने जल्दी जल्दी अपने भाई के सिर के बालों में अपने हाथ घुमाने लगी और उसके चेहरे को सहलाने लगी। वो और जल्दी जल्दी मेरी चूत चाटने लगा। मेरी चुद्दी का स्वाद नमकीन था जो अनुभव को बहुत पसंद आ रहा था। फिर वो मेरी चूत के लम्बे लम्बे होठो को दांत से पकड़कर उपर की तरफ खींचने लगा।
दोस्तों मुझे इतना उत्तेजना हुई की लगा कहीं मेरा माल ना चूत जाए। अनगिनत बार भाई ने मेरे चूत के लम्बे लम्बे होठो को दांत से पकड़कर उपर उपर को उठाया।
““……अई…अई….अई……अई….इसस्स्स्स्स्स्स्स्…….उहह्ह्ह्ह…..ओह्ह्ह्हह्ह….अनुभव प्लीस मुझे जल्दी चोदो। अब मुझसे नही रहा जा रहा है!!” मैंने कहा पर उसने मेरी बात नही सुनी और जल्दी जल्दी वो मेरी चूत को खाता रहा। फिर उसने कस कसके कई चांटे मेरी चूत पर मार दिए। मुझे बहुत सनसनी हो रही थी। अब मैं चुदने को पूरी तरह से तैयार थी और मेरी चूत से सफ़ेद रंग का माल निकलने लगा था।
अनुभव ने मेरे पैर खोल दिए और लंड चूत में डाल दिया और मुझे चोदने लगा। मैं मजे से आह आह हा हा करके चुदवाने लगी। अनुभव के मोटे लौड़े से मेरी चूत सिकुड़ गयी थी। बड़ी कसी कसी नशीली रगड़ थी वो। चुदते चुदते मेरे पेट में मरोड़ उठने लगी। इसके साथ ही मेरे बदन में बड़ी अजीब सुखद लहरें उठने लगी, जो मेरी चुदती चूत से उठ रही थी और पूरे बदन में फ़ैल रही थी। मैं फटर फटर करके चुदवा रही थी। अनुभव को कुछ समझाने की जरुरत नही थी। वो सब जानते था। किसी तेज तर्रार लडके की तरह वो मेरे साथ संभोग कर रहे था। कुछ देर बाद मेरा भाई बहुत जादा चुदासा हो गया और बिना रुके किसी मशीन की तरह मेरी चूत मारने लगा। फटर फटर करके उसकी कमर मेरी कमर से टकरा रही थी। चट चट की आवाज कमरे में बज रही थी। अनुभव मेरी छातियों को जोर जोर से मीन्जने, दबाने और मसलने लगा। मेरी चूत गीली हो गयी। अनुभव का लौड़ा सट सट करके मेरी चूत ले रहा था। वहीँ मेरे पेट में मरोड़ उठ रही थी। इसके साथ ही आनंद की सुखद लहरे चूत से लगातार उठ रही थी। इस गजब की उतेजना के दौर में अनुभव ने चट चट मेरे गाल पर २ ४ थप्पड़ भी जड़ दिए।
मैंने हाथ के पंजों से बिस्तर की चादर पकड़ ली और कसकर भींच ली क्यूंकि मेरी चुद्दी [चूत] में अब तूफान आ चुका रहा। वो हौक हौंक के मेरी चूत मारने लगा। इस तरह चुदवाने में कुछ आराम मिल रहा था। खाली मुट्ठी चुदवाने में बड़ा अजीब लगता है। हाथ में तो कुछ होना ही चाहिए। अनुभव फक फक करके मुझे फक [चोद] कर रहे थे। मैं अच्छी तरह जानती थी की वो मेरे रूप, रंग और खूबसूरती को भोगना चाहते है। वो मुझे पेट पर हाथ से गोल गोल सहला सहलाकर चोद रहे थे। कुछ देर बाद मेरी चूत रवां हो गयी और पूरी तरह से खुल गयी। उसका रास्ता खुल गया। मेरी चूत से ढेर सारा ताजा मक्खन निकला रहा था, चुदते समय जो भाई के मोटे लौड़े पर ग्रीस की तरह अच्छे से चुपड़ गया था। इससे वो अच्छे से फट फट करके मुझे चोद पा रहे थे। मैं
“आई…..आई….आई… अहह्ह्ह्हह…..सी सी सी सी….हा हा हा…” की आवाज
निकाल रही थी। किसी पिस्टन की तरह उनका लौड़ा मेरी चूत में फिसल रहा था, अंदर बाहर हो रहा था और मेरी चूत को चोद रहा था। मेरा भाई कामशास्त्र और चोदनशास्त्र में भी प्रवीण था, माहिर थे। ये बात आज मुझको पता चल गयी थी। फिर मेरा भाई अनुभव मुझे लेटकर पेलने लगा। अब वो मेरे होठ भी चूस रहा था और नीचे से मुझे चोद भी रहा था। मैं तो किसी सातवे आसमान में विचरण कर रही थी। क्यूंकि भाई ने मुझे चोद चोदकर मेरे सारे नट बोल्ट ढीले कर दिए थे। फिर आधे घंटे बाद उसने मेरी चूत में ही माल गिरा दिया। अब मैं भाई से पूरी तरह से सेट हो चुकी हूँ और जब मन करता है चुदवा लेती हूँ। कहानी आपको कैसे लगी, अपनी कमेंट्स नॉन वेज स्टोरी डॉट कॉम पर जरुर दे।

loading...

Hindi Sex Story

Hindi Sex Stories: Free Hindi Sex Stories and Desi Chudai Ki Kahani, Best and the most popular Indian top site Nonveg Story, Hindi Sexy Story.


Online porn video at mobile phone


dibali me cudane ki kahaniसबके सामनेxxxसाली के बड़े बड़े बुब्बस दबाके चूदाई कीanti ki or didiपैंटी है..sxi kahaniसिस्टर सेक्स स्टोरी हिंदीhotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayaमराठी xxxस्टोरीजसेकसि सुहागरात काे चुदाईमेरी कुवारी चूतकी गरमीदिवाली पर गाँड़ फाड़ चुदाई सेक्स स्टोरीpapa k draevar na home sax vasana story hindiमामीको चोदने का मौका विडियोमेरी बहन चुपके चुपके चुदाने जाती हैमेरे गांडु पती ने दोस्तसे चुदवायाhotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayaचाचा ने मुझे बहुत चोदाdibali me cudane ki kahaniBete ne apni maa ko khub choda or bachha paida kiyasexy storiesWWW..विदवा भाभी की छत पर चोदा अपने सगे देवर ने काहानी COMbeteko muth mara te dekh kahani nonvej sexलड पकडकर चुत मे लियामाँ कि जयपूर मे Sax storehotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayachudai ki Hindi ki mst kahaniyanमराठी चुदाई स्टोरीhotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayamaa or beta honeymoon xxx kahaniभाई बहन सास दमाद ओपेन सेकसी बिडीओचोद चोदकरभाई बहन सास दमाद ओपेन सेकसी बिडीओसेक्स कहानि दोस्त कि बिबि ने चोदनेपर मजबुर कियाchutme land gusa hindi khani bhanmewww.ghode ka land aur ghori ka boor kaphoto dikhaye.comdibali me cudane ki kahaniसुहागरात की रात को पत्नी ने पति से जबरदस्ती चुदवाया स्टोरी14 साल चिकने गांड वाले लडके का गे कामुकता Wwwडॉग पुकची गे सेक्सhotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayahotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayasex story माँ को पुरानी प्रेमिकाHindi me tirchi najar wali bhabhi ki x vidioesDesi hd chudai bhaibhayaHot sexx netajiki bibiचाची की च** में मेरा लौड़ा अंदर तक चला गयाdidi ko ghar m guma guma k choda.comgarmi pelm pel chudai kahaniमैंने गैर औरत को अपना लौड़ा दिखा करxxxbahan बही माँ cudai कहानीjijasalisexstoryshotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayaपापा के दोस्तो ने मा को चोदा ग्रुप मेgarmi me chacha ne maa ko chofamom and douther ne javani ki mja leyaMajburi me mom bani meri patni chudai story In Hindiचाची को चोदा गली के साथ सेक्स स्टोरीhotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayaasli chudai chod madr chod meri gad ko jor jor se chodnपापा से सेक्स करती हूं क्या सहीलङकि को चोदते चोदते बुर सै निकला रस और खुनBahan ko thand se bachaya chut chodkarhotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayaकुवारी सहेली को छुड़वाया हिंदी कहानीbete or damaad se chudaiचोदने की कहानीAntarvasna.sasur son in-lawdibali me cudane ki kahanixx hide storyswap korna choot vabiBive aor sistar saxe kahaneभाग पिलाकर बेटी को चोदाbhaibahansexkhaniKamukta servant massage hindi sex storyNEW SEX KAHANI LADAKI KI LEKHANI SEसेकसि सुहागरात काे चुदाईghar ka maal chudaixx hide storyमकान मालिक खूब चुदवायाmami aue bhaje ki train me fuckinghotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayadibali me cudane ki kahaniसोते हुए सगी बहन का बहन सोने का नाटक करती रही सेक्स स्टोरीhotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayaxxxsex.sas.kahaneअंधेरे मे भाई से चुद गईkarvachauth per sex storiesdibali me cudane ki kahaniसैस्सी अन्तर्वासना हिन्दी काहनिया 2018 सगी बहन की सिल तोडी